410 ओमिक्रॉन के आम दिखने वाले इन पांच लक्षणों के बारे में नहीं जानते ज्यादातर लोग- रात में पसीना आना और शरीर में दर्द होना सूखी खांसी,बिना कारण थकान,गले में खरोंच लगना, हल्का बुखार,रात में पसीना आना,शरीर में दर्द, एक बार डॉक्टर के चेकअप जरूर कराएं- विश्व स्वास्थ्य संगठन-CRIME BHASKAR NEWS.COM-EDITOR UMESH SHUKLA


CRIME BHASKAR NEWS.COM-EDITOR UMESH SHUKLA

नई दिल्ली 12-12-2021 

       

नई दिल्ली|दुनिया भर में मामले देखते हुए ओमिक्रॉन के लक्षण काफी साफ नहीं हैं। वहीं, इस वेरिएंट के लक्षणों की कम जानकारी के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) का सुझाव है कि SARS-CoV-2 का नया वेरिएंट उन लोगों को आसानी से संक्रमित कर सकता है, जिन्हें पहले कोविड हो चुका है या जिन्होंने पूरी तरह से वैक्सीनेशन करा लिया है। 2 सालों में कोविड19 ने पूरी दुनिया में बहुत तबाही मचाई। वहीं, डेल्टा वेरिएंट ने भी लोगों के बीच डर पैदा किया। धीरे-धीरे लोगों के बीच कोरोना के लक्षणों के प्रति जानकारी बढ़ती गई। अब दुनिया भर में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर डर और दुविधा की स्थिति बनी हुई है क्योंकि अभी तक इस वेरिएंट के लक्षण पूरी तरह साफ नहीं हुए हैं। अभी तक के मामलों को देखते हुए विशेषज्ञों ने ओमिक्रॉन के कुछ लक्षण बताए हैं।

थकान-ओमिक्रॉन का शिकार हुआ व्यक्ति हमेशा थका हुआ महसूस करता है। ज्यादा मेहनत न करने पर भी उसे थकावट बनी रहती है और हमेशा आराम करने का मन करता है। , तो एक बार डॉक्टर के चेकअप जरूर कराएं।  पहले के वेरिएंट की तरह ही ओमिक्रॉन से थकान या ज्यादा थकावट हो सकती है। आपको भी अगर बिना किसी कारण थकान रहने लगी है

गले में खरोंच जैसा लगना-अफ्रीकी डॉक्टर, एंजेलिक कोएत्जी के अनुसार, ओमिक्रॉन से संक्रमित व्यक्तियों ने गले में खराश के बजाय 'खरोंच' की शिकायत की है, जो एक असामान्य बात है। ऐसे में यह कहा जाता सकता है कि गले में खराश इतनी ज्यादा बढ़ जाती है कि गले में जख्म जैसा महसूस होने लगता है। इससे गले में दर्द भी बढ़ जाता है।  

हल्का बुखार-  तेज बुखार के मामले कम देखे गए हैं। ओमिक्रॉन में शरीर का तापमान कई दिनों तक बढ़ता रहता है। कोरोना वायरस की शुरुआत के बाद से हल्का से मध्यम बुखार कोविड19 के बताए गए लक्षणों में से एक है, ओमिक्रॉन में बुखार माइल्ड रहता है और कई दिनों तक बना रह सकता है। 

 रात में पसीना आना और शरीर में दर्द होना-  ओमिक्रॉन में मरीजों में अब तक देखे गए हैं। उनका कहना है कि रात के समय पसीना आना भी इस बीमारी का लक्षण है।   दक्षिण अफ्रीका के स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर अनबेन पिल्ले ने उन लक्षणों को बताया है,  सबसे हैरानी की बात यह है कि इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति अगर एसी चलाकर या ठंडी जगह पर भी सोता है, तो भी उसे पसीने आते हैं।  ओमिक्रॉन से पीड़ित लोगों को सूखी खांसी भी हो सकती है। यह लक्षण कोविड19 के लक्षणों में भी दिखाई दिया था। 

सूखी खांसी - जब आपका गला सूखता है या फिर आपके गले में इंफेक्शन होने की वजह से कुछ अटका हुआ-सा लगता है। सूखी खांसी तब होती है|  सूखी खांसी बढ़ने से गले में दर्द बढ़ता जाता है और कुछ भी खाने-पीने में परेशानी होती है। ओमिक्रॉन से पीड़ित लोगों को सूखी खांसी भी हो सकती है। यह लक्षण कोविड19 के लक्षणों में भी दिखाई दिया था। 

BREAKING NEWS