405 ब्रिटिश कोलंबिया प्रांत की एक सीनियर सिटीजन लू और खराब वायु गुणवत्ता के कारण मरीज की स्वास्थ्य स्थिति खराब कनाडा में जलवायु परिवर्तन से बीमार होने वाली ये दुनिया की पहली मरीज :स्वास्थ्य विभाग -CRIME BHASKAR NEWS.COM-EDITOR UMESH SHUKLA



 नई दिल्ली 09-11-2021

 -CRIME BHASKAR NEWS.COM-EDITOR UMESH SHUKLA

            
  नई दिल्ली | जलवायु परिवर्तन से बीमार होने का पहला मामला सामने आया है। कनाडा की रहने वाली 70 साल की एक बुजुर्ग महिला दुनिया की पहली महिला हैं जो जलवायु परिवर्तन के कारण बीमार हुई हैं। उन्हें सांस लेने की दिक्कत के अलावा कई तकलीफों से गुजरना पड़ रहा है।कनाडा की एक महिला को जलवायु परिवर्तन से पीड़ित दुनिया की पहली मरीज बताया जा रहा है।  कनाडा के स्थानीय दैनिक अखबार 'टाइम्स कॉलमनिस्ट' को अस्पताल के आपातकालीन विभाग ने जानकारी दी कि महिला का स्वास्थ्य लगातार बिगड़ रहा है। उन्हें डायबिटीज है। उन्हें कुछ दिल  की बीमारी भी है। वह बिना एयर कंडीशनिंग वाले ट्रेलर में रहती हैं। लिहाजा गर्मी और लू से उनकी सेहत पर बुरा असर हुआ है। वह वास्तव में हाइड्रेटेड रहने के लिए संघर्ष कर रही हैं। डॉक्टर मेरिट का कहना है कि सिर्फ रोगियों के लक्षणों का इलाज करने के बजाय कारणों की पहचान करके उन्हें हल करने की जरूरत है।  प्राकृतिक संसाधनों का दोहन कितना भयावह हो सकता है। इसका उदाहरण अब देखा जाने लगा है। 
                        इस महिला को सांस लेने में समस्या का सामना करना पड़ रहा है। मरीज की जांच कर रहे डॉक्टरों का कहना है कि लू और खराब वायु गुणवत्ता के कारण मरीज की स्वास्थ्य स्थिति खराब हुई है। महिला कनाडा के ब्रिटिश कोलंबिया प्रांत की एक सीनियर सिटीजन है और अस्थमा के गंभीर स्टेज से जूझ रही हैं।

इंडिया टुडे   के मुताबिक, कनाडा के कूटनाय लेक अस्पताल में डॉ. काइल मेरिट महिला का इलाज कर रहे हैं। कनाडा के स्थानीय दैनिक अखबार 'टाइम्स कॉलमनिस्ट' को अस्पताल के आपातकालीन विभाग ने जानकारी दी कि महिला का स्वास्थ्य लगातार बिगड़ रहा है। उन्हें डायबिटीज है। उन्हें कुछ दिल की बीमारी भी है

BREAKING NEWS