375 केंद्र सरकार -रामविलास पासवान 3दशक से भी ज्यादा समय रहेLJP नेता को तगड़ा सरकारी झटका, 12 जनपथ बंगला खाली करने का आदेश,मकान खाली करने के लिए थोड़ा और समय मांगा:चिराग पासवानCRIME BHASKAR NEWS.COM-EDITOR UMESH SHUKLA


CRIME BHASKAR NEWS.COM-EDITOR UMESH SHUKLA

पटना | केंद्र सरकार ने दिल्ली के सरकारी बंगला 12 जनपथ को खाली करने का नोटिस दिया है. दिल्ली के लुटियंस जोन में बना वीवीआईपी बंगला 12 जनपथ उनके पिता रामविपास पासवान के नाम पर आंवटित था. पासवान इस बंगले में काफी लंबे समय तक रहे जिस वजह से 12 जनपथ की पहचान पासवान के साथ जुड़ गई थी.  रामविलास पासवान के इस बंगले को उनके भाई और केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस को आवंटित करने का प्रस्ताव दिया गया था लेकिन उन्होंने यह ऑफर ठुकरा दिया.लालू बोले- चिराग ही हैं पासवान की LJP के नेता, चाहता हूं कि तेजस्वी गठबंधन करें|आठ अक्टूबर को रामविलास पासवान की पहली  बरसी है और चिराग पासवान पिता की पहली बरसी तक इस बंगले में रहना चाहते हैं. 

                    रामविलास पासवान तीन दशक से भी ज्यादा समय से रह रहे थे. अब देखना ये है कि 30 साल बाद 12 जनपथ से पासवान परिवार की विदाई होगी या नहीं. चिराग पासवान खुद भी जमुई से लोकसभा सांसद हैं और उनके नाम पर सांसद कैटगरी का एक आवास पहले से नॉर्थ एवेन्यू में आवंटित है.मोदी कैबिनेट में नए मंत्री बने एक नेता को यह बंगला मिलेगा.इसलिए उन्होंने बंगले को खाली करने के लिए समय मांगा था और इस बारे में उन्होंने शहरी विकास मंत्री हरदीप पूरी से मुलाकात भी की थी. चिराग पासवान का बचपन भी इसी बंगला में बीता है. लोक जनशक्ति पार्टी (चिराग गुट) के अध्यक्ष चिराग पासवान को अब शहरी विकास मंत्रालय के तहत आने वाले संपदा निदेशालय ने लोजपा नेता चिराग को यह बंगला खाली कराने का आदेश दिया है. चिराग पासवान को बंगला खाली करने का नोटिस दिया गया था लेकिन चिराग ने मकान खाली करने के लिए थोड़ा और समय मांगा था.   हालांकि पिता की मृत्यु के बाद वह अपनी मां के साथ इस बंगले में रह रहे थे. अब उन्हें यह बंगला खाली करना पड़ेगा.

BREAKING NEWS