357 10वीं कक्षा का रिजल्ट जारी, परीक्षाफल 100 % रहा (39 %) परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी में 397626 (43.50 फीसदी) द्वितीय श्रेणी में एवं 159871 (17.48%) परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में पास हुए। इस प्रकार कुल(39 फीसदी) परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी में 397626 (43.50 %) द्वितीय श्रेणी में एवं 159871 (17.48 %) परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में पास,लड़कियों का पास 65.87% और लड़कों का पास 60.09 %रहा ,ऐसा दूसरी बार हो रहा:एमपी बोर्ड


mpresults.nic.in , MPBSE MP Board 10th Result 2021 updates : जारी हुआ एमपी बोर्ड 10वीं का रिजल्ट, यहां चेक करें अपना परिणाम

MPBSE MP Board 10th Result 2021 live udpates : एमपी बोर्ड 10वीं कक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया गया है। विद्यार्थी mpbse.nic.in , mpbse.mponline.gov.in और mpresults.nic.in के  पर भी नतीजे चेक कर सकते हैं।

 914079 परीक्षार्थी परीक्षा में पास

यहां देखें अपना रिजल्ट

 

मध्य प्रदेश बोर्ड 10वीं का रिजल्ट 2021  - यहां क्लिक कर देखें परिणाम

MP Board 10th Result 2021 live udpates : यहां पढ़ें एमपी बोर्ड रिजल्ट का लाइव अपडेट

04:34 PM - जानें कैसा रहा रिजल्ट

इस वर्ष हाईस्कूल परीक्षा के लिए 916348 रेगुलर और 79188 स्वाध्यायी छात्रों द्वारा परीक्षा फॉर्म भरे गए थे। आज 914079 रेगुलर परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम घोषित कर दिए गए हैं। इनमें 356582
(39 फीसदी) परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी में 397626 (43.50 फीसदी) द्वितीय श्रेणी में एवं 159871 (17.48 फीसदी) परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में पास हुए। इस प्रकार कुल (39 फीसदी) परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी में 397626 (43.50 फीसदी) द्वितीय श्रेणी में एवं 159871 (17.48 फीसदी) परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में पास हुए। इस प्रकार कुल हैं
जिनका परीक्षाफल 100 फीसदी रहा है। संपूर्ण विषयों में अनुपस्थित परीक्षार्थियों (कुल 8865) का परीक्षाफल  अनुपस्थित दर्शाते हुए तैयार किया गया है। 

04:24 PM - 100 फीसदी रहा एमपी बोर्ड 10वीं का रिजल्ट 
इस बार एमपी बोर्ड 10वीं का रिजल्ट शत-प्रतिशत रहा। कुल 356582 स्टूडेंट्स फर्स्ट डिविजन, 397626  सेकेंड डिविजन और 159871 थर्ड डिविजन से पास हुए। 
इस वर्ष 494142 छात्रों और 431071 छात्राओं ने परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया था। इनमें से 486984 छात्र और 427095 छात्राओं का रिजल्ट जारी किया गया है। ये सभी पास घोषित किए गए हैं।

स्वाध्यायी छात्रों का परीक्षाफल न्यूनतम पासिंग मार्क्स देते हुए तैयार किया गया है। आज 79188 स्वाध्यायी छात्रों के परीक्षाफल घोषित कर दिए गए हैं। घोषित परीणामों में से 79188 परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में पास हुए हैं। इस प्रकार 79188 परीक्षार्थी परीक्षा में पास हुए हैं जिनका परीक्षाफल 100 फीसदी रहा है। 

इस वर्ष हाईस्कूल परीक्षा में किसी भी परीक्षार्थी को पूरक (कंपार्टमेंट) नहीं दी गई है। 

यदि परीक्षार्थी अपने परीक्षा परिणाम से असंतुष्ट हैं या जिनका परीक्षा परिणाम अनुपस्थित दर्शाते घोषित किया गया है तो वह सितंबर 2021 में आयोजित होने वाली परीक्षा में संपूर्ण विषयों की परीक्षा में या किसी विषय विशेष की परीक्षा में सम्मिलित हो सकते हैं। ऐसे परीक्षार्थी दिनांक 1-08-2021 से 10-08-2021 के बीच परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए एमपी ऑनलाइन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। 
ऐसे परीक्षार्थियों का परीक्षा के आधार पर तैयार रिजल्ट ही अंतिम परिणाम माना जाएगा। 

mp board 10th result 2021

परीक्षा परिणाम के संबंध में छात्रों की शिकायतों का निपटारा करने के लिए विशेष व्यवस्था की गई है। अगर किसी छात्र को मार्क्स को लेकर कोई शिकायत है तो वह एमपी ऑनलाइन पोर्टल पर बनाए गए विशेष सॉफ्टवेयर के जरिए अपना रोल नंबर व एप्लीकेशन नंबर डालकर मूल अंक, कटौती के बाद प्रदत्त अंक व स्कूल के अंकों के बारे में औसत अंकों के जानकारी हासिल कर सकता है।  

परीक्षार्थियों को दी जा रही अंकसूचियों में यदि किसी प्रकार की लिपिकिय त्रुटि है तो परीक्षा परिणाम घोषित होने के दिनांक से तीन माह की अवधि तक उसे ठीक कराने के लिए फ्री व्यवस्था है। तीन माह तक किसी प्रकार का सुधार न कराने वाले छात्र व छात्राओं को बाद में ऐसे सुधार कराने के लिए फीस के साथ आवेदन करना होगा।

                             10

04:20 PM : रिजल्ट जारी करने के बाद स्कूल शिक्षा विभाग ने ट्वीट किया। 

 

04:00 PM -  एमपी बोर्ड 10वीं रिजल्ट जारी कर दिया गया है। स्टूडेंट्स ऊपर दिए गए बॉक्स में अपना रोल नंबर और एप्लीकेशन नंबर डालकर परिणाम चेक कर सकते हैं।

 

  शिक्षा मंत्री कुछ ही देर में एमपी बोर्ड ऑफिस पहुंचने वाले हैं। वह सिंगल क्लिक से नतीजे जारी करेंगे।   यदि अभ्यर्थी बोर्ड परीक्षा पास करने में विफल रहते हैं, तो उन्हें 33 अंक दिए जाएंगे और उन्हें अगली कक्षा में पदोन्नत किया जाएगा। यदि कोई छात्र उन्हें दिए गए अंकों से नाखुश है, तो वे बाद में लिखित परीक्षा में शामिल हो सकते हैं।

 पिछले वर्ष 10वीं में 62.84 फीसदी विद्यार्थी हुए थे पास-एमपी बोर्ड 10वीं का रिजल्ट 4 जुलाई को जबकि एमपी बोर्ड 12वीं का रिजल्ट 27 जुलाई को जारी किया गया। पिछले वर्ष एमपी बोर्ड 10वीं का रिजल्ट 62.84 फीसदी रहा था। कुल 15 छात्रों ने 100-100 फीसदी अंक हासिल कर टॉप किया था। 15 में से 5 गुना जिले के थे। दो विद्यार्थी 99.75 फीसदी मार्क्स के साथ दूसरे स्थान पर और 22 विद्यार्थी 99.67 फीसदी अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहे थे। लड़कियों का पास प्रतिशत 65.87 और लड़कों का पास प्रतिशत 60.09 रहा था।   एमपी बोर्ड के इतिहास में ऐसा दूसरी बार हो रहा है जब 10वीं और 12वीं कक्षा के नतीजे अलग-अलग दिन जारी किए जा रहे हैं। वर्ष 2020 में पहली बार 10वीं और 12वीं कक्षा के नतीजे अलग-अलग दिन जारी किए थे। इससे पहले 10वीं और 12वीं का रिजल्ट साथ साथ जारी होता रहा था।

  एमपी बोर्ड रिजल्ट से असंतुष्ट छात्र 1 सितंबर से दे सकेंगे परीक्षा

एमपी बोर्ड 1 सितंबर से 25 सितंबर के बीच 10वीं 12वीं कक्षाओं की विशेष परीक्षा आयोजित करेगा। जो छात्र जुलाई में जारी होने वाले रिजल्ट से असंतुष्ट होंगे, वह इन परीक्षाओं में बैठ सकेंगे। इन छात्रों को सितंबर की विशेष परीक्षा के जरिए अपने मार्क्स सुधारने का मौका दिया जाएगा। परीक्षा के लिए इन्हें 1 अगस्त से 10 अगस्त 2021 तक रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। 

10:53 AM : मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार आज शाम 4 बजे माध्यमिक शिक्षा मंडल में सिंगल क्लिक से कक्षा 10वीं का रिजल्ट जारी करेंगे। विद्यार्थी और अभिभावक एमपी बोर्ड के पोर्टल mpbse.mponline.gov.in , mpbse.nic.in, mpresults.nic.in पर रिजल्ट देख सकते है।  नतीजे चेक करने के लिए आपको दो चीजों की जरूरत होगी। एक आपका दसवीं का रोल नंबर और एक एप्लीकेशन नंबर। इनके बिना आप नतीजे चेक नहीं कर पाएंगे। इसलिए अभी से इन्हें निकालकर अपने पास रख लें। 

  रिजल्ट फॉर्मूला - करीब 11.50 लाख परीक्षार्थियों का रिजल्ट छिमाही, प्री-बोर्ड और रिवीजन टेस्ट के नंबरों के आधार पर बनाया गया है। स्कूल बीते 3 साल के अपने रिजल्ट के औसत से 2% ज्यादा अच्छा रिजल्ट नहीं दे सकेंगे। प्राइवेट परीक्षार्थियों को 33 फीसदी अंक मूल्यांकन मानकर पास माना जाएगा। जो विद्यार्थी रिजल्ट से असंतुष्ट होंगे, वे ओपन बोर्ड परीक्षा में शामिल हो सकेंगे।

स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार के मुताबिक छमाही और प्री-बोर्ड परीक्षा में से जिसमें ज्यादा अंक होंगे, उसका 50 फीसदी वेटेज होगा। 100 अंक में से इसके 50 नंबर होंगे। 30 फीसदी नंबर यूनिट टेस्ट और 20 फीसदी रिवीजन टेस्ट के होंगे। सभी स्कूलों को अपनी समन्वय संस्था को 30 मई तक रिजल्ट भेजना होगा। 

 हालात सामान्य होने के बाद 20 दिन पहले परीक्षा का टाइम टेबल जारी किया जाएगा।   का परिणाम प्री बोर्ड परीक्षा, यूनिट टेस्ट और इंटरनल असेसमेंट के आधार जारी किया जा रहा है। 

  बेस्ट ऑफ फाइव सिस्टम के तहत भी छठे कठिन विषय के नंबर को हटाकर बनाए गए रिजल्ट ने पिछले तीन साल में 70 फीसदी का आंकड़ा भी कभी नहीं छुआ।

  इस वर्ष उन सभी परीक्षार्थियों को पास कर दिया जाएगा जिन्होंने परीक्षा फॉर्म भरा था।

                                           परीक्षा रद्द होने के कारण इस बार मेरिट लिस्ट जारी नहीं होगी। टॉपरों का ऐलान नहीं होगा।

  इसलिए लिए आपको नीचे दिए लिंक पर क्लिक कर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। एमपी 10वीं का रिजल्ट जारी होने पर लाइव हिन्दुस्तान की ओर से आपके मोबाइल पर अलर्ट भेजा जाएगा जिस पर सीधा क्लिक कर आप नतीजे चेक कर सकेंगे। रजिस्ट्रेशन के लिए आपको सिर्फ अपना अपना नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल और कक्षा की जानकारी देनी होगी।

मध्य प्रदेश बोर्ड 10वीं का रिजल्ट 2021 - रजिस्ट्रेशन के लिए क्लिक करें

06:00 AM एप पर ऐसे देखें अपना रिजल्ट

मध्य प्रदेश बोर्ड का रिजल्ट मोबाइल एप पर भी देख सकते हैं। आधिकारिक जानकारी के मुताबिक इसके लिए अपने मोबाइल के गूगल प्ले स्टोर पर जाकर एमपीबीएसई मोबाइल एप या एमपी मोबाइल एप डाउनलो करें और Know Your Result का चयन करने के बाद अपना रोल नंबर और आवेदन क्रमांक भरकर सब्मिट करते ही एमपी बोर्ड रिजल्ट 2021 देख पाएंगे। 


04:24 PM - 100 फीसदी रहा एमपी बोर्ड 10वीं का रिजल्ट 
इस बार एमपी बोर्ड 10वीं का रिजल्ट शत-प्रतिशत रहा। कुल 356582 स्टूडेंट्स फर्स्ट डिविजन, 397626  सेकेंड डिविजन और 159871 थर्ड डिविजन से पास हुए। 
इस वर्ष 494142 छात्रों और 431071 छात्राओं ने परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया था। इनमें से 486984 छात्र और 427095 छात्राओं का रिजल्ट जारी किया गया है। ये सभी पास घोषित किए गए हैं।

स्वाध्यायी छात्रों का परीक्षाफल न्यूनतम पासिंग मार्क्स देते हुए तैयार किया गया है। आज 79188 स्वाध्यायी छात्रों के परीक्षाफल घोषित कर दिए गए हैं। घोषित परीणामों में से 79188 परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में पास हुए हैं। इस प्रकार 79188 परीक्षार्थी परीक्षा में पास हुए हैं जिनका परीक्षाफल 100 फीसदी रहा है। 

इस वर्ष हाईस्कूल परीक्षा में किसी भी परीक्षार्थी को पूरक (कंपार्टमेंट) नहीं दी गई है। 

BREAKING NEWS