278 बीजेपी धोखेबाज पार्टी बंगाल में हराना और TMC को जिताना मकसद नंदीग्राम की जनता से कह रहे:राकेश टिकैत किसान नेता (crime bhaskar news .com-umesh shukla)


(crime bhaskar news .com-umesh shukla)

       किसान नेता और भारतीय किसान यूनियन के प्रमुख राकेश टिकैत जब महापंचायत में शामिल होने के लिए बंगाल पहुंचे तो तृणमूल कांग्रेस की सांसद डोला सेन ने हवाई अड्डे पर उनकी अगवानी की। इसके बाद टिकैत ने शहर में और पूर्वी मेदिनीपुर जिले के नंदीग्राम में सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर के साथ किसानों को संबोधित किया। नंदीग्राम किसानों के आंदोलन की यह भूमि केन्द्र के नये कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन को एक नई दिशा देगी।मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और उनकी कैबिनेट में मंत्री रहे शुवेंदु अधिकारी के बीच यहां मुकाबला है। दिल्ली की सीमाओं पर जारी आंदोलन पर उन्होंने कहा कि आंदोलनकारी लंबे समय तक अपना आंदोलन जारी रखने के लिए तैयार हैं क्योंकि उनका उनका मनोबल ऊंचा है।पश्चिम बंगाल में विधानसभा के लिए 27 मार्च को पहले चरण के लिए वोटिंग होगी। यहां कुल आठ चरणों में मतदान होने हैं।  

                      टिकैत ने आरोप लगाया कि केंद्र में भाजपा की अगुवाई वाली सरकार किसानों और उनके आंदोलन की रीढ़ तोड़ने पर आमादा है। उन्होंने कहा कि यह ''जन-विरोधी सरकार है। उन्होंने कहा, ''भाजपा को वोट मत देना। अगर उन्हें वोट दिया गया तो वे आपकी जमीन बड़े कॉर्पोरेट्स और उद्योगों को दे देंगे और आपको भूमिहीन बना देंगे। वे आपकी आजीविका दांव पर लगाकर देश के बड़े उद्योगपति समूहों को जमीन सौंप देंगे और आपको खतरे में डाल देंगे।''मतों की गिनती 2 मई को होगी।इस अपील से बीजेपी के विरोधी दलों को फायदा नहीं पहुंचेगा?राकेश टिकैत जिस नंदीग्राम की बात कर रहे हैं, वह बंगाल चुनाव में सबसे हाई-प्रोफाइल सीट बन चुकी है।कोलकाता में टिकैत ने मीडियाकर्मियों को बताया, "हम लोगों को यह बताने के लिए नंदीग्राम जा रहे हैं कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर फसलें नहीं खरीदी जा रही हैं। 

                  टिकैत ने भाजपा को 'धोखेबाजों' की पार्टी कहते हुए कहा, ''हम भाजपा का विरोध करने वालों और किसानों तथा गरीबों के साथ खड़े होने वालों के पाले में रहेंगे।'' उन्होंने स्पष्ट किया कि बंगाल में किसान महापंचायत का मतलब राज्य में किसी विशेष गैर-भाजपा पार्टी को समर्थन देना नहीं है।  किसी विशेष पार्टी के लिए वोट मांगने के लिए नहीं आया हूं। हम यहां बंगाल में किसानों की ओर से भाजपा के खिलाफ लड़ाई शुरू करने के लिए अपील कर रहे हैं।''अधिकारी पिछले साल दिसंबर में भाजपा में शामिल हो गए। उन्होंने पहले कहा था कि नंदीग्राम से भाजपा 50,000 से अधिक मतों से ममता बनर्जी को हराएगी।

                  हम उनसे भाजपा को वोट नहीं देने की अपील करेंगे।" ऐसे में सवाल उठना तो लाजमी है कि आखिर टिकैत का मकसद क्या है। वह सिर्फ बीजेपी को हराना चाहते हैं? भारतीय किसान यूनियन (BKU) के नेता राकेश टिकैत ने शनिवार को कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा नंदीग्राम के मतदाताओं से विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (BJP) को वोट नहीं देने की अपील करेगा। आपको बता दें कि मोर्चा ने केंद्र द्वारा लागू किए गए तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ कोलकाता में एक दिन पहले 'महापंचायत' आयोजित की थी।

BREAKING NEWS