211 एक जमीन का विवाद :UP के निघासन से तीन बार विधायक कांग्रेस नेता रहे निर्वेंद्र कुमार मिश्रा उर्फ मुन्ना की दबंगों ने मारते-मारते ऑन द स्पॉट मार दिया-पुलिस की मिलीभगत से हो रहा था कब्जा पूर्व विधायक के बेटे संजीव मिश्रा का आरोप



 (crime bhaskar news.com-umesh shukla)

                                

  • अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में पूर्वविधायक की हुई मौत
  • निर्वेंद्र मिश्रा कांग्रेस के नेता और 3 बार पूर्व विधायक रहे
  •  दबंगों के साथ मारपीट में पूर्व विधायक का बेटा भी घायल
  •        संपूर्णनगर थाना क्षेत्र के तिरकौलिया पढुआ गांव के पास सड़क किनारे एक जमीन का विवाद पूर्व विधायक निर्वेंद्र मिश्रा और दूसरे गुट के बीच पिछले कई सालों से कोर्ट में चल रहा था. आज करीब 1 बजे दूसरे गुट के लोग विवादित जमीन पर कब्जा करने पहुंच गए जिसकी जानकारी पूर्व विधायक को हुई तो वह अपने बेटों के साथ मौके पर पहुंचे.लखीमपुर खीरी जिले में संपूर्णनगर थाना क्षेत्र के निघासन विधानसभा क्षेत्र से तीन बार विधायक रहे निर्वेंद्र कुमार मिश्रा उर्फ मुन्ना की दबंगों से मारपीट हो गई. इससे पूर्व विधायक निर्वेंद्र मिश्रा को चोटें आई जिसके चलते उनकी मौत हो गई.उत्तर प्रदेश के एक पूर्व विधायक की दबंगों ने पीट-पीट कर हत्या कर दी. 

                          लखीमपुर खीरी जिले में संपूर्णनगर थाना क्षेत्र के निघासन विधानसभा क्षेत्र से तीन बार विधायक रहे निर्वेंद्र कुमार मिश्रा उर्फ मुन्ना की दबंगों से मारपीट हो गई. इससे पूर्व विधायक निर्वेंद्र मिश्रा को चोटें आईं जिसके चलते उनकी मौत हो गई. दबंगों ने उनके बेटे को भी पीट-पीटकर अधमरा कर दिया है. निर्वेंद्र कांग्रेस के नेता रहे हैं और 3 बार पूर्व विधायक रहे हैं. हत्या से नाराज प्रशंसकों ने पूर्व विधायक का शव रखकर प्रदर्शन शुरू कर दिया. विवादित भूमि पर कब्जा करने के मामले में दबंगों से उनकी बहस हो गई. बदमाश हथियारों से लैस थे. इसी दौरान दबंगों ने पूर्व विधायक और उनके बेटे के साथ जमकर मारपीट की. दबंगों के हमले में घायल हुए पूर्व विधायक की अस्पताल ले जाते समय रास्ते में ही मौत हो गई.

                        पूर्व विधायक के बेटे संजीव ने पलिया कस्बे के रहने वाले 2 दबंगों के खिलाफ नामजद तहरीर पुलिस को दे दी है. उनका आरोप है कि पुलिस की मिलीभगत से ही इन दबंगों ने उनकी विवादित पड़ी जमीन पर अवैध कब्जा करना शुरू किया था. घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस के आला अधिकारी घटनास्थल की ओर निकल गए हैं.  पूर्व विधायक के बेटे संजीव कुमार मिश्र ने बताया, 'मेरी जमीन पडुआ अड्डे पर वो विवादित है उसका केस चल रहा है. उस जमीन को जोतने पलिया के सेठ 50-60 लोगों को लेकर आए थे. उनकी मदद में सीओ पलिया भी लगे हुए थे. वो लोग आए मैं गया यहां से और कहा कि जमीन विवादित है. इसको मत जोतिये लेकिन उन्होंने मुझे मारा. मेरे पिता को भी मारा. मेरे पिता को मारते-मारते ऑन द स्पॉट मार दिया जिन लोगों ने मारा उन्हें पकड़कर हमारे गांव के आदमी उनको मेरे घर पर लाए लेकिन पलिया सीओ हमारे घर पर लाठीचार्ज करके उन लोगों को छुड़ाकर ले कर चले गए.

  • पूर्व विधायक निर्वेंद्र कुमार मिश्रा लखीमपुर खीरी जिले में तिरकौलिया पढुआ गांव के पास सड़क किनारे विवादित भूमि पर दबंगों द्वारा कब्जा किए जाने से रोकने के लिए गए थे, लेकिन वहां मामला बढ़ गया और हाथापाई हो गई जिसमें वह बुरी तरह से जख्मी हो गए और बाद में उनकी मौत हो गई. पूर्व विधायक की हत्या पर कांग्रेस, सपा और बसपा ने योगी सरकार पर हमला बोला है. 

BREAKING NEWS