184 पत्रकार विक्रम जोशी-भांजी के छेड़छाड़ के खिलाफ पुलिस थाने में शिकायत दी थी, ना उसमें कार्रवाई की और ना ही गिरफ्तारी और नाराज़ 5-6 बदमाशों ने पत्रकार को मारी गोली हालत नाजुक दिल्ली-गाज़ियाबाद पुलिस हाथ पर हाथ रखकर बैठी की कमजोरी सामने आई


पत्रकार विक्रम जोशी-भांजी के छेड़छाड़ के खिलाफ पुलिस थाने में शिकायत दी थी, ना उसमें कार्रवाई की और ना ही गिरफ्तारी और नाराज़ 5-6 बदमाशों ने पत्रकार को मारी गोली हालत नाजुक

 

दिल्ली-

गाज़ियाबाद पुलिस हाथ पर हाथ रखकर बैठी की कमजोरी सामने आई

crime bhaskar news.com-umesh shukla

                 

दिल्ली से सटे गाज़ियाबाद में बदमाश इतने बेखौफ हो गए हैं कि वह पत्रकारों पर भी गोली चलाने लगे हैं. दरअसल, गाज़ियाबाद में पत्रकार ने अपनी भांजी के छेड़ने की तहरीर पुलिस को दी थी. पुलिस ने ना उसमें कार्रवाई की और ना ही किसी की गिरफ्तारी की. इसके बाद तहरीर देने से नाराज़  बदमाशों ने सोमवार की देर रात पत्रकार को गोली मार दी.  पत्रकार जिंदगी और मौत से अस्पताल में लड़ रहा है. 

         गाजियाबाद में बदमाश लगातार हावी हो रहे हैं और पुलिस हाथ पर हाथ रखकर बैठी है अब बदमाश पत्रकारों को भी अपना निशाना बनाने लगे हैं. इसके बाद ऐसा लगता है कि कहीं ना कहीं पुलिस की कमजोरी है, जिससे कि बदमाश इतने बेखौफ हो गए हैं जो पत्रकारों को भी निशाना बना रहे हैं.थाना विजयनगर क्षेत्र के अंतर्गत हुई घटना के संबंध में एसपी सिटी ने बताया  कि इस घटना के मुख्य आरोपी रवि सहित पांच अन्य को गिरफ्तार किया गया है.

गाज़ियाबाद में इस पत्रकार ने अपनी भांजी के छेड़ने की तहरीर पुलिस को दी थी. पुलिस ने ना उसमें कार्रवाई की और ना ही किसी की गिरफ्तारी की. इसके बाद तहरीर देने से नाराज़ बदमाशों ने सोमवार की देर रात पत्रकार को गोली मार दी.गाजियाबाद के विजयनगर इलाके में कुछ अज्ञात बदमाशों ने पत्रकार विक्रम जोशी पर हमला किया था. अब इसका सीसीटीवी फुटेज सामने आया है. इस सीसीटीवी फुटेज में विक्रम जोशी अपनी दो बेटियों के साथ मोटरसाइकिल से जा रहे थे. तभी बदमाशों ने उन्हें घेर लिया और गोली मारी. इस मामले में पांच आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं.

करीब 5-6 बदमाशों ने पहले विक्रम जोशी को घेरा और फिर उनके साथ मारपीट की. बाद में विक्रम जोशी को गोली मारकर बदमाश फरार हो गए. पिता को घायल देख बेटी मदद की गुहार लगाती रही. यह पूरी वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई. अब पुलिस इस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों की तलाश कर रही है 

विक्रम जोशी का कसूर बस इतना था कि उनकी भांजी को लगातार छेड़ा जा रहा था और उन्होंने उन बदमाशों के खिलाफ थाने में शिकायत दी थी. तहरीर देने से नाराज बदमाशों ने सोमवार रात विक्रम को गोली मार दी. विक्रम के सिर में गोली लगी है वह गंभीर हालत में यशोदा अस्पताल में भर्ती है. हालांकि पुलिस का कहना है कि जो भी होगा आरोपी होगा उस पर कार्रवाई की जाएगी. लेकिन सवाल ये है कि अगर पुलिस कार्रवाई करती तो शायद विक्रम आज अस्पताल में भर्ती ना होता.

परिजनों का भी कहना है कि अगर विक्रम की तहरीर पर कार्रवाई होती तो आज यह घटना ना होती.विक्रम की भांजी को लगातार छेड़ा जा रहा था और उसके बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की. 

                    गाज़ियाबाद घटना की एक सीसीटीवी फुटेज सामने आई है, जिसमें देखा जा सकता है कि पांच-छह बदमाश जोशी को घेरकर मार रहे हैं, तभी एक दूसरा अपराधी आता है, और उनके सिर में बिल्कुल करीब से गोली मार देता है. गोली लगने के बाद जोशी जमीन पर गिर जाते हैं और बदमाश भाग जाते हैं. जिसके तुरंत बाद उनकी बेटी पास में आती है और घबराई हुई मदद के लिए चिल्लाती है.

BREAKING NEWS