183 निराश्रित गौवंश को चारा-भूसा उपलब्ध कराने के निर्देश


जबलपुर | 
    प्रबंध संचालक गौपालन एवं पशुधन संवर्धन बोर्ड ने कहा कि प्रदेश में गेहूँ/चने का भूसा पर्याप्त मात्रा मे उपलब्ध है। बोर्ड द्वारा प्रदेश की 599 पंजीकृत क्रियाशील गौशालाओं के 1 लाख 66 हजार गौवंश के लिये 20 रूपये प्रति दिवस प्रति गौवंश के मान से 90 दिवस के लिये 29 करोड़ 85 लाख रूपये का अनुदान जिला कलेक्टर/अध्यक्ष जिला गौपालन एवं पशुधन संवर्धन समितियों को जारी कर दिया गया है।
   जिला अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि अनुदान की राशि अविलंब गौशाला समितियों तक पहुँचाई जाए, जिससे आगामी महीनों के लिये भूसा क्रय कर संग्रहित कर सकें। मैदानी अमले को निर्देशित किया गया है कि ग्रीष्म ऋतु को ध्यान में रखते हुए वे अपने कार्य क्षेत्र की गौ-शालाओं का लगातार भ्रमण करें और ऐसी गौशालाओं को चिन्हांकित करें, जहाँ पानी की समस्या उत्पन्न हो सकती है।
   कोरोना संक्रमण की परिस्थिति में समस्त गौशाला संचालकों से बोर्ड आग्रह किया है कि आवश्यकता होने पर वे अपने क्षेत्र के निराश्रित गौवंश को भी चारा-भूसा उपलब्ध कराएं।
 

Sliderfront