178 राजस्थान में कांग्रेस सरकार पर संकट की मुद्रा,भाजपा इंतजार की मुद्रा में,पायलट के विद्रोह पर,अमित शाह से सचिन पायलट की मुलाकात सोमवार को,पायलट का दावा उन्हें कांग्रेस के 30 विधायकों समर्थन प्राप्त....


 


umesh shukla crime bhaskar news 

पायलट अभी दिल्ली में हैं और उन्होंने खुले तौर पर पार्टी के खिलाफ असंतोष प्रकट किया है. पायलट का दावा है कि उन्हें कांग्रेस के 30 विधायकों और कुछ अन्य निर्दलीय सदस्यों का समर्थन प्राप्त है. भाजपा के एक नेता ने कहा कि ऐसा लगता है कि पायलट ने अपना मन बना लिया है और वह गहलोत के नेतृत्व के साथ जाने को तैयार नहीं हैं. राजस्थान  में कांग्रेस सरकार के ऊपर छाए संकट के बादलों पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) “इंतजार करो और देखो” की मुद्रा में है. 

 पार्टी सूत्रों ने रविवार को कहा कि अगली कार्रवाई की योजना पर निर्णय लेने से पहले भाजपा, मुख्यमंत्री अशोक गहलोतऔर सचिन पायलट  के बीच शक्ति प्रदर्शन के परिणाम का इंतजार करेगी.सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट देर रात गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात कर सकते हैं.गहलोत ने सोमवार को कांग्रेस विधायकों  की बैठक बुलाई है जिसमें इस बात के स्पष्ट संकेत मिलने की उम्मीद है कि गहलोत और पायलट को कितने विधायकों का समर्थन प्राप्त है. माना जा रहा है कि राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष पायलट भाजपा के कुछ नेताओं के संपर्क में हैं लेकिन भाजपा सूत्रों ने इस बारे में कुछ भी कहने से इनकार किया है कि उसकी पायलट से कोई बात हुई है या नहीं. वहीं सुबह बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ सचिन पायलट मुलाकात कर सकते हैं.सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट देर रात गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात कर सकते हैं. वहीं सुबह बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ सचिन पायलट मुलाकात कर सकते हैं.राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार पर संकट के बादल मंडराये हुए हैं. राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बागी तेवर अख्तियार कर लिए हैं.

              वहीं अब सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट देर रात गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात कर सकते हैं. वहीं सुबह बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ सचिन पायलट मुलाकात कर सकते हैं.राजस्थान के उपमुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता सचिन पायलट भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल हो सकते हैं. सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट देर रात को ही गृहमंत्री अमित शाह से भी मुलाकात कर सकते हैं. सूत्रों के मुताबिक सचिन पायलट सुबह बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से भी मिल सकते हैं.वहीं अगर सचिन पायलट बीजेपी का दामन थामते हैं तो यह राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार के लिए बड़ा झटका होगा. दूसरी तरफ सचिन पायलट का दावा है कि उनके साथ 30 विधायकों का समर्थन है. इनमें कांग्रेस और निर्दलीय विधायक शामिल है.

                                      ऐसे में विधायकों के साथ बीजेपी में शामिल होने के कारण गहलोत सरकार अल्पमत में आ जाएगी.सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट के साथ 27 कांग्रेस विधायक भी बीजेपी में शामिल हो सकते हैं. इसके अलावा तीन निर्दलीय विधायक भी पायलट को समर्थन दे रहे हैं और वे भी बीजेपी से जुड़ सकते हैं. सूत्रों का कहना है कि सुबह होने वाली कांग्रेस विधायक दल की बैठक से पहले ही देर रात विधानसभा अध्यक्ष को सचिन पायलट के समर्थक विधायक अपना इस्तीफा भेज सकते हैं.राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार पर संकट के बादल मंडराये हुए हैं.

                                       राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बागी तेवर अख्तियार कर लिए हैं. वहीं अब सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट देर रात गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात कर सकते हैं. वहीं सुबह बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ सचिन पायलट मुलाकात कर सकते हैं.राजस्थान के उपमुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता सचिन पायलट भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल हो सकते हैं. सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट देर रात को ही गृहमंत्री अमित शाह से भी मुलाकात कर सकते हैं. सूत्रों के मुताबिक सचिन पायलट सुबह बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से भी मिल सकते हैं.वहीं अगर सचिन पायलट बीजेपी का दामन थामते हैं तो यह राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार के लिए बड़ा झटका होगा. दूसरी तरफ सचिन पायलट का दावा है कि उनके साथ 30 विधायकों का समर्थन है. इनमें कांग्रेस और निर्दलीय विधायक शामिल है. ऐसे में विधायकों के साथ बीजेपी में शामिल होने के कारण गहलोत सरकार अल्पमत में आ जाएगी.सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट के साथ 27 कांग्रेस विधायक भी बीजेपी में शामिल हो सकते हैं. इसके अलावा तीन निर्दलीय विधायक भी पायलट को समर्थन दे रहे हैं और वे भी बीजेपी से जुड़ सकते हैं. 

                                  सूत्रों का कहना है कि सुबह होने वाली कांग्रेस विधायक दल की बैठक से पहले ही देर रात विधानसभा अध्यक्ष को सचिन पायलट के समर्थक विधायक अपना इस्तीफा भेज सकते हैं.सचिन पायलट ने कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया से भी मुलाकात की. ज्योतिरादित्य सिंधिया के आवास पर सचिन पायलट उनसे मिलने पहुंचे थे. दोनों नेताओं के बीच करीब 40 मिनट तक चली इस मुलाकात के बाद सचिन पायलट के बीजेपी में शामिल होने की अटकलों को और भी ज्यादा बल मिला.

BREAKING NEWS